होम

प्रतिष्ठा महोत्सव के दूसरे दिन भगवान का गर्भ कल्याणक महोत्सव मनाया गया इंद्रसभा व राज्यसभा सजाकर महाराजा समुद्र विजय ने सोलह स्वप्नों का फल बताया गर्भ कल्याणक महोत्सव के अवसर पर भव्य शोभायात्रा निकाली गई | The News Day

IMG-20211204-WA0204-8e3d8d23

*प्रतिष्ठा महोत्सव के दुसरे दिन भगवान का गर्भ कल्याणक महोत्सव मनाया गया*

*इन्द्र सभा व राजसभा सजाकर महाराजा समुद्र विजय ने सोलह स्वप्नो का फल बताया*

*गर्भ कल्याणक महोत्सव के अवसर पर भव्य शौभा यात्रा निकाली गई*

*सिंगोली-* स्थानीय श्री 1008 आदिनाथ दिगंबर जिन मंदिर श्री कुन्दकुन्द कहान धार्मिक एवं परमार्थिक ट्रस्ट व दिगंबर जैन मुमुक्षु मंडल द्वारा आध्यात्मिक सत्पुरूष श्री कानजी स्वामी की मंगल प्रभावना योग से नगर मे नव निर्मित 1008 श्री आदिनाथ दिगंबर जिन मंदिर के पंच कल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव मे आज दुसरे दिन भगवान का गर्भ कल्याणक महोत्सव बड़े धूमधाम से मनाया इस अवसर पर इन्द्र दरबार सजा ओर राजसभा बुला कर महाराजा समुद्र विजय ने भगवान की माता को आये सोलह सपनो का मतलब सभी को समझाया और भगवान के जन्म लेने की बात बताई इस पर शोरीपुर नगरी मे खुशी का वातावरण निर्मित हो गया।भक्तगणो ने गर्भ कल्याणक पूजन कर भगवान के गर्भ कल्याणक महोत्सव के अवसर पर दोपहर 3 बजे हाथी, घोड़े, रथो के साथ भव्य शौभा यात्रा निकाली गई जो आयोजन स्थल शोरीपुर नगरी से नव निर्मित जिन मंदिर तक पहुँची।
जहां पर श्री वेदी का शुद्धीकरण तथा नवीन जिन मंदिर मे सौधर्म इन्द्र इन्द्राणीयो द्वारा पूजन पूर्वक श्री जिनवाणी मंदिर मे 37 ग्रन्थ एवं आचार्य चरण स्थापना के साथ प्रतिष्ठा सम्बधित विभिन कार्यक्रम किये गये। कार्यक्रम की जानकारी देते हुए आयोजन समिति के अध्यक्ष प्रेमचंद बजाज कोटा कार्याध्यक्ष विजय बडजात्या इन्दौर एवं महामंत्री नवीन धनोत्या ने बताया की पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव को लेकर समाजजनो सहित नगर वासियो मे जबरदस्त उत्साह है। धानोत्या ने आगे बताया की आज भगवान का गर्भ कल्याणक महोत्सव विधी विधान के साथ बड़े हर्ष के साथ मनाया गया जिसमे भव्य शौभा यात्रा निकली तथा रात्री मे जिनेन्द्र भक्ती, शास्त्र वाचन, स्वाध्याय, के साथ आध्यात्मिक सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा । धानोत्या ने बताया की पंचकल्याणक महोत्सव मे सभी कार्यक्रम निर्देशक रजनीश भाई दोषी हिम्मतनगर,एवं सह निर्देशक अशोक जी लुहाडिया मंगलायतन व पंडित देवेन्द्र जी जैन बिजौलिया के निर्देशन मे वरिष्ठ प्रतिष्ठाचार्य बाल ब्रह्मचारी पंडित श्री जतिशचंद्र जी शास्त्री के सानिध्य मे सम्पन्न हो रहे है। गर्भ कल्याणक महोत्सव मे दिल्ली, मुम्बई, बैंगलोर,इन्दौर, उदयपुर, कोटा, भीलवाड़ा, बिजौलिया,बेंगू, रावतभाटा, सहित अनेक स्थानो के श्रावक श्राविकाओ ने भाग लिया।

Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button